Class-9th (Hindi Language) Olympiad - CANHO

Mock Instructions

  • 1. This is Model Question Paper.
  • 2. This is an Online Worksheet.
  • 3. Total Questions-50.
  • 4. Total Time-60 minutes.

खण्ड-अ- व्याकरण:

Q.1 निम्नलिखित में कौन सा कथन गलत है ?

  • (a) सभी स्वरों की मात्राएं भी होती हैं।
  • (b) व्यंजन को स्वर के बिना लिखना संभव नहीं है।
  • (c) अनुस्वार और अनुनासिक स्वर एवं व्यंजन के बीच की ध्वनि है।
  • (d) व्यंजनों के पाँचो वर्गों के पंचम वर्ण अनुनासिक होते हैं।

Q.2 नीचे शब्दों के चार समूह शब्दकोष क्रम में लिखे गए हैं। कौन-सा समूह सही है?

  • (a) क्लेश, कंस, काल, कुल, केलि
  • (b) तांबूल, ताज, तीर, तृण, त्राण
  • (c) पाँत, पंक, पोखर, प्रेम, पहल
  • (d) दामिनी, द्विज, देश, दोप, द्वैत

Q.3 निम्नलिखित शब्दों में कौन विशेषण से बनी भाववाचक संज्ञा है?

  • (a) अच्छाई
  • (b) सिंचाई
  • (c) मानवता
  • (d) श्वेतिमा

Q.4 ‘चतुरानन’ है‒

  • (a) द्वन्द्व समास
  • (b) बहुव्रीहि समास
  • (c) अव्ययीभाव समास
  • (d) नन् समास

Q.5 अधीश में कौन-सा उपसर्ग है?

  • (a) अति
  • (b) अधि
  • (c) अ
  • (d) अनु

Q.6 निम्नलिखित में कौन ‘अग्नि’ का पर्यायवाची नहीं है?

  • (a) रोहिताश्व
  • (b) हव्यवाहन
  • (c) धनंजय
  • (d) तिमिर

Q.7 तपोवन का सन्धि-विच्छेद है

  • (a) तपो + वन
  • (b) तप: + वन
  • (c) तप + उपवन
  • (d) तपु + वन

Q.8 नदियों के नाम किस संज्ञा के अंतर्गत आते हैं?

  • (a) जातिवाचक
  • (b) व्यक्तिवाचक
  • (c) भाववाचक
  • (d) समूहवाचक

खण्ड-ब- पठन कौशल:

निर्देश: दिए गए गद्यांश को पढ़ें और फिर उसके नीचे दिए प्रश्नों का उत्तर सही विकल्प का चयन करके दें।

पुरुषार्थ दार्शनिक विषय है, पर दर्शन का जीवन से घनिष्ठ सम्बन्ध है। वह थोड़े-से विद्यार्थियों का पाठ्य विषय मात्र नहीं है। प्रत्येक समाज को एक दार्शनिक मत स्वीकार करना होता है। उसी के आधार पर उसकी राजनीतिक, सामाजिक और कौटुम्बिक व्यवस्था का व्यूह खड़ा होता है जो समाज अपने वैयक्तिक और सामूहिक जीवन को केवल प्रतीयमान उपयोगिता के आधार पर चलाना चाहेगा उसको बड़ी कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। एक विभाग के आदर्श दूसरे विभाग के आदर्श से टकराएँगे। जो बात एक क्षेत्र में सही जँचेगी वही दूसरे क्षेत्र में अनुचित कहलाएगी और मनुष्य के लिए, अपना कर्त्तव्य स्थिर करना कठिन हो जाएगा। इसका तमाशा आज दीख पड़ रहा है। चोरी करना बुरा है, पर पराये देश का शोषण करना बुरा नहीं। झूठ बोलना बुरा है, पर राजनैतिक क्षेत्र में सच बोलने पर अड़े रहना मूर्खता है। घरवालों के साथ, देशवासियों के साथ और परदेशियों के साथ बर्ताव करने के लिए अलग-अलग आचारा-संहिंता बन गई है। इससे विवेकशील मनुष्य को कष्ट होता है।

Q.9 सामाजिक व्यवस्था को चलाने के लिए आवश्यकता होती है

  • (a) आचार संहिता बनाने की
  • (b) विशेष दर्शन बनाने की
  • (c) विरोधाभासों को दूर करने की
  • (d) एक सफल रणनीति बनाने की

Q.10 समाज के लिए दर्शन महत्त्वपूर्ण है, क्योंकि

  • (a) इससे समाज की व्यवस्था संचालित होती है|
  • (b) इससे सामाजिक जीवन की उपयोगिता में वृद्धि होती है|
  • (c) यह समाज को सही दृष्टि प्रदान करता है|
  • (d) इससे राजनीति की रणनीति निर्धारित होती है|

Q.11 समाज में जीवन प्रतीयमान उपयोगिता के आधार पर नहीं चल सकता, क्योंकि

  • (a) सभी व्यक्तियों का जीवन दर्शन भिन्न होता है|
  • (b) आचार संहिताएँ सभी के लिए अलग-अलग हैं|
  • (c) एक ही बात भिन्न-भिन्न क्षेत्रो में उचित या अनुचित हो सकती है|
  • (d) सभी मनुष्य विवेकशील नहीं होते|

Q.12 विवेकशील मनुष्य को कष्ट पहुँचाने वाले विरोधाभास हैं

  • (a) सभी व्यक्तियों पर एक ही दर्शन थोपने का प्रयास
  • (b) परिवार, देश और विदेशी लोगों लिए पृथक् आचार संहिता
  • (c) समाज विशेष के लिए नैतिक मूल्य और नियमों का निर्धारण
  • (d) दर्शन के अनुसार राजनीतिक, सामाजिक तथा पारिवारिक-व्यवस्था का निर्धारण

Q.13 गद्यांश का उपयुक्त शीर्षक है

  • (a) समाज और दर्शन
  • (b) दर्शन और सामाजिक आचरण
  • (c) दर्शन और सामाजिक व्यवस्था
  • (d) समाज में दर्शन का महत्त्व

खण्ड-स- उच्च योग्यता:

Q.14 निम्नलिखित प्रश्न में दिये चार विकल्पों में से शुद्ध वाक्य का चयन कीजिए।

  • (a) आइये विराजिये, यह काम करें।
  • (b) आइये बैठिये, यह काम करो।
  • (c) आइये विराजिये, यह काम कीजिये।
  • (d) आइये बैठिये, यही काम करना है।

Q.15 विशेष्य और विशेषण के निम्नलिखित युग्मों में कौन सही नहीं है?

  • (a) प्रतिष्ठा ‒ प्रतिष्ठित
  • (b) पानी ‒ पानीदार
  • (c) हिम ‒ हैम
  • (d) सम्पादक ‒ सम्पादित